Call us - +91 9639009995, +91 8192000780

Anathalaya Education, Awarded India's Best Anathalaya, International Anathalaya

मुख्य संरक्षक : डा० आर०पी० चड्ढा

चड्ढा चैरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक एवं मुख्य संरक्षक डा० आर० पी० चड्ढा शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिष्ठित नाम है। डॉ० आर० पी० चड्ढा (डॉ० राम प्रकाश चड्ढा) का जन्म 6 जनवरी, 1951 को चंदौसी, मुरादाबाद उत्तर प्रदेश में हुआ। उन्होंने सन् 1971 में आगरा विश्वविद्यालय से एम० एस० सी० मैथ्स की डिग्री हासिल की और अपने पुश्तैनी लकड़ी के व्यवसाय को आगे बढ़ाना शुरू किया। सन् 1990 में इन्होने उच्च शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षा संस्थानों की बेहद कमी को महसूस किया और अपने मित्रों के साथ मिलकर एक एजुकेशन सोसाइटी बनार्इ। 1995 तक डा० चड्ढा इससे जुड़े रहे।

सन् 1995 में डा० आर० पी० चड्ढा ने आर्इ० टी० एस० मोहन नगर, गाजियाबाद की नींव डाली जो आगे चलकर एक ऐतिहासिक कदम साबित हुआ और आर्इ० टी० एस- दि एजुकेशन ग्रुप का आधार बना। आर्इ० टी० एस मोहन नगर, गाजियाबाद पिछले 20 वर्षो से उत्कृष्ट उच्च शिक्षा के लिये प्रतिष्ठित एवं देश के अग्रणी उच्च शिक्षण संस्थानों में सम्मिलित है।

गत वर्षो में डा० चड्ढा ने आर्इ० टी० एस० सेन्टर फार डेन्टल स्टडीज एन्ड रिसर्च मुरादनगर (2000), आर्इ० टी० एस पैरामेडिकल कॉलेज (बायो टेक), मुरादनगर (2003), आर्इ० टी० एस० पैरामेडिकल कॉलेज (फार्मेसी), मुरादनगर (2003) एवं आर्इ० टी० एस० पैरामेडिकल कॉलेज (फिजियोथेरेपी), मुरादनगर (2004) की स्थापना की । 2004 में ही मुरादनगर गाजियाबाद में सूर्या हॉस्पिटल की स्थापना हुर्इ जो 100 बिस्तरों वाला अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त लोकप्रिय अस्पताल है।

डा० आर० पी० चड्ढा का मूलमंत्र है कि - 'पढ़ार्इ और दवार्इ' मानव जीवन की मूलभूत आवश्यकताएं हैं। इसीलिये उनके अथक प्रयासों से राष्ट्र को उत्कृष्ट शिक्षण संस्थाये, चिकित्सा अनुसंधान संस्थान एवं स्तरीय चिकित्सालय मिले। इसी क्रम में 2006 में आर्इ० टी० एस० डेन्टल कॉलेज हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर, ग्रेटर नोएडा की स्थापना हुर्इ 2006 में ही आर्इ० टी० एस इन्जीनियरिंग कॉलेज, ग्रेटर नोएडा का शुभारम्भ हुआ। 2007 में आर्इ० टी० एस० इन्स्टीटयूट आफ मैनेजमेन्ट, ग्रेटर नोएडा अस्तित्व में आया।

उत्तर भारत में शिक्षा क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए 2009 में एम० जी० आर० यूनिवर्सिटी, चेन्नर्इ ने डा० आर० पी० चड्ढा को 'डॉक्टरेट' की मानद उपाधि से सम्मानित किया। डा० आर० पी० चड्ढा को भारत में व्यवसायिक शिक्षा के उत्थान में विशेष योगदान के लिये जी टीवी द्वारा 2011 में 'ज्वैल आफ उत्तर प्रदेश रत्न' से भी सम्मानित किया गया है।

आर्इ० टी० एस० समूह मुख्य रूप से राष्ट्र के लिये प्रबन्धन, इंजीनियरिंग, आर्इ० टी०, दंत चिकित्सा, परा चिकित्सकीय के क्षेत्र में योग्य नागरिक देने के प्रति समर्पित हैं। डा० आर० पी० चड्ढा हिन्दी और अंग्रेजी में 18 किताबें लिख चुके है। डा० चड्ढा के समाजसेवी प्रयास वृहद एवं उदार रहे हैं। उनके मानव हितार्थ प्रयासों की विस्तृत जानकारी हमारी वेबसाइट के 'Philanthropic Initiatives' कालम में उपलब्ध है। मृदुभाषी, सौम्य एवं उदारमना डा० चड्ढा का लम्बे समय से सपना था कि वे असहाय एवं गरीब बच्चों के लिये एक सर्व सुविधायुक्त आश्रय सुनिश्चित कर पायें। छात्रावास व इसी परिसर में संचालित चड्ढा पब्लिक स्कूल व चैरिटेबल क्लीनिक डा० चड्ढा के इसी स्वप्न का मूर्तरुप है।

Best Anathalaya Websites India, Best Anathalaya to Work for International
Anathalaya for Girl, India girl Anathalaya

  डा० आर०पी० चड्ढा

यशोदा वाटिका के संस्थापक एवं मुख्य संरक्षक डा० आर० पी० चड्ढा शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिष्ठित नाम है। डाॅ० आर० पी० चड्ढा (डाॅ० राम प्रकाश चड्ढा) का जन्म 6 जनवरी, 1951 को चंदौसी, मुरादाबाद उत्तर प्रदेश में हुआ। उन्होंने सन 1971 में आगरा विश्वविद्यालय से एम० एस० सी० मैथ्स की डिग्री हासिल की और अपने पुस्तैनी लकड़ी के व्यवसाय को आगे बढ़ाना शुरू किया। {read more}
Anathalaya
Yashoda Vatika Anathalaya
Education Anathalaya, Anathalaya for Education, Education Development Anathalaya
Poor Girl Child Education in India, Girl Child Education, Education for Poor Children in India

Yashoda Vatika Anathalaya