Call us - +91 9639009995, +91 8192000780

Anathalaya Education, Awarded India's Best Anathalaya, International Anathalaya

दैनिक कार्यक्रम

जो बीत चुका है उस पर हमारा नियन्त्रण नहीं है, जो आने वाला है उसका हमें ज्ञान नहीं है। हम केवल अपने वर्तमान को नियन्त्रित कर सकते हैं, उसे मनचाहा स्वरुप दे सकते है। हमारा आज ही हमारे कल को निर्धारित करता है। अत: एक सुव्यवस्थित एवं अनुशासित जीवनशैली ही हमारे उज्जवल भविष्य के निर्माण में सहायक होती है। दैनिक कार्यक्रम 'दिनचर्या' की हमारे जीवन में निर्णायक भूमिका होती है।

छात्रावास का सुनियोजित दैनिक कार्यक्रम निम्नवत है-

(School days)

प्रात: 5:30                 :     जागरण/नित्यकर्म   
प्रात: 6.00-6.30        :     योगा/व्यायाम   
प्रात: 6.30-7.00        :     स्नान आदि    
प्रात: 7.00-7.20        :     प्रार्थना एवं यूनिफार्म निरीक्षण   
प्रात: 7.20-7.45        :     जलपान   
प्रात: 7.45-1.45        :     विद्यालय गमन    
दोपहर 2.00-2.20     :     भोजन    
दोपहर 2.30-4.00     :     विश्राम/उपचारात्मक कक्षाएॅं/वस्त्र प्रक्षालन
                                      (केवल बडी  बालिकाओ के लिए सप्ताह में दो बार)   
सायं 4.00-5.00        :     खेल कूद   
सायं 5.00-5.30        :     दूध व जलपान   
सायं 5.30-6.00        :     स्नान आदि    
सायं 6.00-6.30        :     मन्दिर/ईश ध्यान    
सायं 6.30-7.30        :     स्व अध्ययन   
सायं 7.45-8.15        :     रात्रि भोजन   
रात्रि 8.30-9.30        :     स्वाध्याय/समाचार/रचनात्मक कार्य/अभिरूचि   
रात्रि 9.45-10.00      :     रात्रि निरीक्षण   
रात्रि 10.00               :     स्मरण एवं शयन   

(रविवारअवकाश)

रविवार प्रात: काल बालसभा का आयोजन होता है जिसमें बालिकाएं कविता पाठ, वाद-विवाद प्रतियोगिताएॅं और हास्य-व्यंग्य के कार्यक्रम प्रस्तुत करती हैं। बालिकाओं के मार्गदर्शन एवं मनोबल को बढ़ाने के लिये आमंत्रित विशिष्ट विशेषज्ञों के द्वारा संक्षिप्त आख्यानों का आयोजन किया जाता है।

Best Anathalaya Websites India, Best Anathalaya to Work for International
Anathalaya for Girl, India girl Anathalaya

  डा० आर०पी० चड्ढा

यशोदा वाटिका के संस्थापक एवं मुख्य संरक्षक डा० आर० पी० चड्ढा शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिष्ठित नाम है। डाॅ० आर० पी० चड्ढा (डाॅ० राम प्रकाश चड्ढा) का जन्म 6 जनवरी, 1951 को चंदौसी, मुरादाबाद उत्तर प्रदेश में हुआ। उन्होंने सन 1971 में आगरा विश्वविद्यालय से एम० एस० सी० मैथ्स की डिग्री हासिल की और अपने पुस्तैनी लकड़ी के व्यवसाय को आगे बढ़ाना शुरू किया। {read more}
Anathalaya
Yashoda Vatika Anathalaya
Education Anathalaya, Anathalaya for Education, Education Development Anathalaya
Poor Girl Child Education in India, Girl Child Education, Education for Poor Children in India

Yashoda Vatika Anathalaya